Shimla: Rail service restored till Taradevi | Heritage Kalka-Shimla railway track | Himachal Solan Shimla News | 200 यात्री पहुंचे, 76 दिन बाद दौड़ी ट्रेन; लैंडस्लाइड के कारण हवा में लटका था ट्रैक

[ad_1]

शिमला23 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
कालका-शिमला हेरिटेज ट्रेक पर दौड़ती ट्रेन            (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar

कालका-शिमला हेरिटेज ट्रेक पर दौड़ती ट्रेन (फाइल फोटो)

वर्ल्ड हेरिटेज कालका-शिमला रेलवे ट्रैक पर 76 दिन बाद तारादेवी तक ट्रेन की आवाजाही शुरू हो गई है। आज पहली ट्रेन कालका से सुबह चार बजे तारादेवी के लिए चली, जो 8 बजकर 45 मिनट पर तारादेवी पहुंची। इसमें करीब 200 यात्री तारादेवी आए।

यही ट्रेन शिमला से सुबह 11 बजे कालका के लिए वापस गई। 30 सितंबर तक इस ट्रैक पर रोजाना दो ट्रेन दौड़ेगी। दूसरी ट्रेन दोपहर बाद 4:40 शिमला पहुंचेगी और यहां से शाम 6:40 बजे वापस कालका के लिए रवाना होगी। दोनों ट्रेन अभी टेंपरेरी शुरू की गई।

शिमला के समरहिल में 14 अगस्त को हवा में लटका ट्रैक, जिसकी बहाली को युद्ध स्तर पर काम चल रहा है, इस पॉइंट के बहाल होते ही शिमला तक ट्रेन की आवाजाही शुरू होगी

शिमला के समरहिल में 14 अगस्त को हवा में लटका ट्रैक, जिसकी बहाली को युद्ध स्तर पर काम चल रहा है, इस पॉइंट के बहाल होते ही शिमला तक ट्रेन की आवाजाही शुरू होगी

छह दिन पहले सोलन तक शुरू हुई थी ट्रेन सेवा
इससे पहले बीते बुधवार को 70 दिन बाद कालका से सोलन तक ट्रेन की आवाजाही शुरू हुई थी। दावा किया जा रहा है कि एक अक्टूबर तक शिमला को भी ट्रेन की आवाजाही शुरू कर दी जाएगी। हालांकि शिमला से लगभग छह किलोमीटर दूर तारादेवी तक ट्रेन शुरू कर दी गई है।

शिमला तक ट्रैक बहाली में लगेंगे तीन-चार दिन
शिमला के समरहिल में जिस स्थान पर लैंडस्लाइड से शिव मंदिर में 20 लोगों की मौत हुई है, वहां पर रेलवे ट्रैक बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुआ और हवा में लटका हुआ है। इसे ठीक करने का काम युद्ध स्तर पर चला हुआ है। रेलवे प्रबंधन पर्यटन सीजन को देखते हुए इसकी जल्द बहाली में जुटा हुआ है।

दो बार की बारिश में तहस-नहस हुआ रेलवे ट्रैक
कालका से शिमला तक पहले सात से 11 जुलाई और फिर 11 से 15 अगस्त के बीच की बारिश से भारी नुकसान पहुंचा है। इससे विश्व धरोहर ट्रैक पर रेल सेवा बंद हुए अढ़ाई महीने बीत गए हैं।

शिमला तक ट्रेन सेवा बहाल होने से देशभर के पर्यटकों को सहूलियत मिल जाएगी। ट्रेन के जरिए शिमला तक का सफर पूरा करके पर्यटन यहां की खूबसूरत वादियों को निहार सकेंगे। गौर रहे कि 15 अक्टूबर के बाद पहाड़ों पर टूरिस्ट बड़ी संख्या में पहुंचने शुरू होते हैं। इससे पहले शिमला तक ट्रेन सेवा पूरी तरह बहाल हो जाएगी।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link